बस्‍तर प्रहरी में आपका स्‍वागत है.

रविवार, 10 जून 2012

कमप्यूटर शिक्षा के नाम पर लूट का अवैध करोबार चल रहा कांकेर मे.

एलआईसी में बीमा होने का दवा करती कंपनी.। 
दफ्तर का अता - पता नही और कंमप्यूटर शिक्षा देने चले ..। 

*दस हजार दो, बिमा भी होगा, तीन और छात्र जोंडों, और प्रति महीना पांच हजार रूपये कमाओं, लेकिन कंाकेर में कंमप्यूटर शिक्षा का दफ्दर ही नही, कंमप्यूटर शिक्षा के नाम पर फर्जीवाड़ा चल रहा जिले में, स्मार्ट वैल्यू कंपनी कंमप्यूटर शिक्षा के नाम पर मार्केटिंग का करोबार कर रही है..*

कांकेर- दस हजार जमा करो और कम्पूटर शिक्षा पाओं,उसके बाद तुम्हारा बिमा हो जाऐगा तथा तीन लागो को जोंडऩे के पश्चात तुमको पन्द्रह सौ रूपये भी मिलेंगे उसके बाद प्रति माह पांच से सात हजार कामा भी सक ते हो..ये कैसी कम्पूटर शिक्षा, शिक्षा है या फर्जी करोबार? कमप्यूटर शिक्षा के नाम पर फर्जी कारोबार का खेल चल रहा है कंाकेर जिला में.. ये कैसी कमप्यूटर शिक्षा है जिसमें १० हजार में बिमा से लेकर पांच हजार तक प्रति माह इनकम भी मिल सकता है..ये कमप्यूटर शिक्षा दे रहे है या अपना मार्केटिंग का काम कर रहे है..इस लूट के करोबार में कांकेर के कुछ युवक तथा युवती भी शिक्षा ग्रहण करने क लिए दस हजार रूपये जमा कर चुके है, और इस कंपनी मे कमप्यूटर शिक्षा ग्रहण करने के लिए सीधा दिल्ली पैसा जमा करना पड़ता है..।
कंमप्यूटर शिक्षा के नाम पर ठग तो नही कर रहा है कंपनी., इस कंपनी का नाम है *स्मार्ट वैल्यू* जिसमें दिल्ली में बैंक के माध्यम से पैसा जमा करवाने बोला जाता है और कमप्यूटर शिक्षा देने की बात कह कर तीन लोगों को जोडने बोला जाता है जिसमें गाड़ी से लेकर, प्रती माह पांच से सात हजार रूपये भी देने की बात कंही जाती है, ये  कंपनी कंाकेर जिले में ब्लाक मुख्यालय में भी सक्रिस है, और कमप्यूटर शिक्षा के नाम पर छल का करोबार कर रहा है कंाकेर जिला मुख्यालय मे इसके कंमप्यूटर शिक्षा देने का दफ्तर का मां- बाप नही है, जिसके आंफिस का अता पता नही वे छात्रों को कंमप्यूटर शिक्षा कंहा पर देगें ये भी एक भ्रम की स्थिति पैदा कर रही है। कंमप्यूटर शिक्षा के नाम पर कंही ठगी का तो शिकार नही हो रहे कंाकेर के युवक -युवती.. और अगर इनको कमप्यूटर शिक्षा देनी भी है तो फिर आप जुड़ों और तीन को और जोड़ों तथा एलआईसी में अपका बीमा हो जाऐगा तथा पांच हजार रूपये प्रति माह मिलेगा, ये कैसी कमप्यूटर शिक्षा है.. ये तो एक मार्केटिंग का करोबार है. जिसमें युवा वर्ग के साथ कमप्यूटर शिक्षा के नाम पर खिलवाड कर रहा है  स्मार्ट वैल्यू नामक कंपनी..।
ज्ञात हो कि कंाकेर जिला मुख्यालय में कुकुरमुत्तों की तरह कंमप्यूटर सेंटर खोल लिया गया है और दस हजार देकर, बीसीए,पीजीडीसीए, आदि अनेक कोर्स करायें जा रहे है, और मनमानी फिस वसुली जा रही है, कई सेंटर अन्य राज्यों से आकार अपना पैर पसारे धंधा कर रहे है और कमप्यूटर शिक्षा के नाम पर मार्केटिंग कर लूट का कारोबार कर रही है। अगर ये कमप्यूटर शिक्षा ही दे तो अच्छा है, ये कंमप्यूटर शिक्षा के नाम पर अगर मार्केटिंग कर रही है और युवओं को लुभा कर बिमा जैसे अनेक योजनाओं से अवगत कराकर कमप्यूटर शिक्षा के नाम पर खिलवाड़ कर रही है जिससे युवओं का भविष्य अंधकारमय होता नजर आ रहा है, कमप्यूटर शिक्षा के नाम पर फर्जी तथा अवैध करोबार का धंधा कंाकेर जिले मेें फल-फुल रहा है अगर जल्द ही लगाम नही कसा गया तो आने वालों दिनों में विसम परीस्थिति आ जाऐगी. और एक फिर कमप्यूटर शिक्षा फर्जीवाड़ा हो जाऐगा।
स्मार्ट वैल्यू नामक कं मप्यूटर शिक्षा देने के नाम पर कंाकेर जिले में १० से १५ छात्रों ने दस हजार रूपये दिल्ली में जमा करवाऐं है और उनके दो एजेंट ये काम को अंजाम दे रहे है.. फिलहाल इस कंपनी का कंाकेर जिला मुख्यालय से लेकर ब्लाक मुख्यालय तक किसी प्रकार का कंमप्यूटर शिक्षा देने का एजुकेशन सेंटर नही है, लेकिन ये कंपनी अभी भी दावा कर रही है कि दस हजार रूपये जमा करो और बिमा का लाभ पाओं तथा तीन छात्र और जोड़ों और प्रति माह पांच हजार रूपये पाओं और कमप्यूटर शिक्षा भी लो, अब ये कौन से युर्नवरसिटी का कमप्यूटर एजुकेशन का प्रमाण पत्र देगी ये तो उसमें जमा किये गये छात्र को भी नही मालूम या फिर पैसा इकट्टा कर रफुचक्कर ना हो जाऐ और छात्रों का क मप्यूटर शिक्षा का सपना अधर में ना लटक जाए़े?।
अधिक फिस वसुली जाती है, कंमप्यूटर शिक्षा के नाम पर
जिले के क मप्यूटर शिक्षण संस्थाओं में मनमानी फिस वुसली जाती है, डीसीए, बीसीए, बेसीक कोर्स आदि के नाम पर अधिक फिस की वसुली की जाती है और पढों चाहे मत पढों लेकिन दस हजार रूपये दो और प्रमाण पत्र ले लो कंाकेर जिले में यही करोबार चल रहा है, मनमानी अपने मनमर्जी फिसों की वसुली की जा रही है जिस पर जल्द ही लगाम नही कसा गया तो कंमप्यूटर  शिक्षा, वसुली शिक्षा बन जाऐगा?।

*क्या दस हजार रूपये जमा करने के बाद छात्रों को क मप्यूटर शिक्षा मिल पाऐगा, या फिर संस्था रफुचक्कर हो जाऐगी?।
* क मप्यूटर शिक्षा के नाम पर मार्केटिंग तो कर रही ह, जिसमें कंही छात्रों का क मप्यूटर एजुकेशन कंही अधर में ना लटक जाए?।
* किस युनर्वसिटी से मान्याता प्राप्त है स्मार्ट वैल्यू को, किस युनर्वसिटी का प्रमाण पत्र देगा और देगा भी की नही ?।
* कंही दिल्ली में पैसा जमा करवा के रफुचक्कर तो नही हो जाऐगा स्मार्ट वैल्यू?।
* शिक्षा के नाम पर क्यों करा रहा है मार्केटिंग का काम, शिक्षा को आड़े लेकर कंही फर्जीवाड़ा का तो काम नही कर रहा है कंपनी?।
* इस सबंध में जिला शिक्षा अधिकारी एमआर खांडे ने बताया कि कंपनी पुरी तरह से फर्जीवाड़ा का काम कर रही है तथा जांच की जाऐगी तथा ठोस कार्यवाही की जाऐगी।